दंगल TV की महिला अधिकारी की हत्या, पति पर प्रतिबंधित अबॉर्शन मेडिसिन खिलाने का आरोप

दंगल TV की महिला अधिकारी की हत्या, पति पर प्रतिबंधित अबॉर्शन मेडिसिन खिलाने का आरोप

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में टीवी चैनल की एक कंप्लायंस अधिकारी की अस्पताल में मौत हो गई। माता-पिता का आरोप है कि साजिश के तहत उनकी बेटी की हत्या की गई। वह सात माह की गर्भवती थी। पति ने उसे चुपके से गर्भपात की प्रतिबंधित गोली देकर अस्पताल में गर्भपात करवाकर मृत जन्मी बच्ची को दफना दिया।

जूनी इंदौर पुलिस के अनुसार माणिकबाग ब्रिज के पास रहने वाले विजय कुमार उदासीन ने आवेदन दिया। इसमें आरोप लगाया कि उनकी बेटी श्रद्धा दंगल और इंटरटेन चैनल में कंप्लायंस अधिकारी के पद पर कार्यरत थी।तीन साल पहले श्रद्धा की शादी महू के खदान मालिक अमित से हुई थी। जब उसे बेटी हुई तो अमित के परिजन उसे प्रताड़ित करने लगे। जब दूसरी बार प्रेग्नेंट हुई तो पति ने उसका भ्रूण टेस्ट कराया। 

ससुराल वाले उसे गर्भपात का कहने लगे। कुछ दिन पहले उसे कोरोना बताकर एमटीएच में भर्ती करा दिया और इलाज के दौरान पति ने चुपके से प्रतिबंधित गोली खिलाकर 7 माह का गर्भ गिरवा दिया। रात 3 बजे अजन्मी बच्ची को दफना आया। पिता का कहना है अस्पताल के सीसीटीवी में रिकार्डिंग भी होगी। अगले दिन श्रद्धा की तबीयत बिगड़ गई और उसने दम तोड़ दिया। जूनी इंदौर पुलिस ने परिजन को किशनपुरा थाने में शिकायत करने के लिए कहा है, क्योंकि उसका ससुराल वहीं था।