स्वास्थ्य- पढ़िए किस तरह उपयोग करने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती हैं नीम की कड़वी पत्तियां

स्वास्थ्य- पढ़िए किस तरह उपयोग करने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती हैं नीम की कड़वी पत्तियां

कड़वी नीम के कई फायदे हैं। यह एक एंटीसेप्टिक है, हमारे खून को साफ करने में मदद करती है। डायबिटीज, पेट के कीड़े, दांतों की तकलीफ, बाल, त्वचा, लीवर, सभी के लिए बहुत लाभकारी है। कोरोना काल में भी इसकी उपयोगिता बहुत बढ़ जाती है। यह हमे रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करती है और बहुत हद तक कोरोना वायरस के दुषभाव से भी बचाती है। इसमें प्रोटेक्टिव फूड के सारे गुण मौजूद हैं। कड़वी नीम को दवा के रूप में लेने के बजाए इसे खाने के रूप में भी लिया जा सकता है और यह हमारे आसपास आसानी से उपलब्ध भी है।

इस प्रकार करें सेवन

चटनी के रूप में नीम की पत्ती के साथ धनिया, टमाटर, गुड़, अजवाइन, नींबू और जीरा मिलाकर चटनी बनाई जा सकती है। इससे विटामिन सी, मिनरल और बी कॉम्पलेक्स पर्याप्त मात्रा में मिलता है।

काढ़ा

नीम, अदरक, गुड़ का काढ़ा बनाकर उपयोग में ले सकते हैं। सब्जी में मीठी नीम की तरह बारीक काटकर सब्जी में छोंका जा सकता है।

साबुत पत्ती

सुबह-सुबह खाली पेट नीम की पत्ती को चबाकर खा सकते हैं। ध्यान रखें पूरे दिन में एकदो नीम

की पत्ती का सेवन पर्याप्त होता है।हफ्ते में एक बार ही इसका सेवन करें। हरी पत्तियों और कोपल का