ग्वालिय में जहरीली शराब का कहर, छह लोग हुए बिमार कई लोगो के आखो की रौशनी चली गई

ग्वालिय में जहरीली शराब का कहर, छह लोग हुए बिमार कई लोगो के आखो  की रौशनी चली गई

 ग्वालियर। जहरीली शराब ने दो लोगों की आंखों की रोशनी छीन ली। जबकि अन्य चार की हालत अब ठीक है और उन्हें ठीक से दिखाई भी दे रहा है। जहरीली शराब से बीमार हुए 6 लोग जयारोग्य अस्पताल में मेडिसिन विभाग के आइसीयू में भर्ती होकर इलाज ले रहे हैं। शुक्रवार की दोपहर को जिला प्रशासन के अफसर अस्पताल पहुंचे । एडीएम रिंकेश वैश्य ने भर्ती मरीजों का हालचाल जाना।

इन सब का कहना है

चंदुपुरा के 60 वर्षीय तेज सिंह का कहना था कि उन्हें अब साफ दिखाई दे रहा है। भाईदौज के दिन उन्हें खेरिया के विजय और प्रदीप ने पेप्पसी में मिलाकर शराब पिला दी थी। जिसके बाद तबियत बिगड़ी तो वह अस्पताल में आकर भर्ती हो गए अब ठीक महसूस कर रहे हैं।

चंदुपुरा का बंटी रजक को आंखो से कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। उसका कहना था कि वह घर से पानी का बाल खोलने के लिए टंकी पर पहुंचा था। वहां पर उसे प्रदीप व विजय पेप्पसी की बोतल के साथ मिले और पेप्सी पीने को दी जिसे उसने पीली। जिसके बाद उसकी हालत बिगड़ गई।

असनेठ भिंड का रहने वाला 30 वर्षीय धर्मेन्द्र ने बताया कि उसने महोना में एक ठेका से 110 स्र्पये क्वाटर खरीद कर पिया तो उसे चक्कर आने लगा। जब सुना कि शराब पीकर लोग मर रहे तो वह अस्पताल में भर्ती हो गया अब ठीक है।