ससुराल पहुंचे जमाई को उठा लाई पुलिस, उसकी हरकत सुनकर फटी रह गई आंखें mp jabalpur

ससुराल पहुंचे जमाई को उठा लाई पुलिस, उसकी हरकत सुनकर फटी रह गई आंखें mp jabalpur

 जबलपुर। सटोरिया दोस्त को साथ लेकर ससुराल पहुंचा जमाई आइपीएल क्रिकेट का सट्टा खिलवा रहा था। मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच व लार्डगंज पुलिस ने दबिश देकर जमाई व उसके दोस्त को दबोच लिया। घटना रानीताल क्षेत्र की है। सटोरियों के कब्जे से सात मोबाइल फोन, 1350 रुपये नकद व रजिस्टर जब्त किया गया है।
रजिस्टर में लाखों रुपये के क्रिकेट सट्टे का हिसाब अंकित है। सटोरियों से कड़ी पूछताछ कर पुलिस पता लगा रही है कि वे किसके लिए काम करते थे। सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा ने बताया कि आइपीएल क्रिकेट मैच शुरू होते ही सटोरिये सक्रिय हो गए हैं। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने निर्देश दिया था कि अभियान चलाकर सटोरियों की धरपकड़ की जाए। जिसके बाद सभी थाना क्षेत्रों में मुखबिरों काे सक्रिय किया गया।

क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सचूना मिली कि चेन्नई सुपर किंग व रायल चैलेंजर बैंगलुरु क्रिकेट मैच में सटोरिये दांव लगवा रहे हैं। मुखबिर के बताए अनुसार क्राइम ब्रांच व लार्डगंज पुलिस की संयुक्त टीम ने रानीताल निवासी लक्ष्मीकांत केशरवानी के घर दबिश दी। जहां न्यू जगदंबा कॉलोनी निवासी मनीष केशरवानी उर्फ मनीष गुप्ता 40 वर्ष एवं श्यामलाल केशरवानी 45 वर्ष निवासी वंदना नगर मोबाइल पर क्रिकेट सट्टा खिलवाते मिले। लक्ष्मीकांत व मनीष ससुर-दामाद हैं।

सीएसपी मिश्रा ने बताया कि सटोरियों से रजिस्टर जब्त किया गया। जिसमेें कोडवर्ड में एक घंटे में करीब चार लाख रुपये के दांव लगाने का हिसाब मिला। मोबाइल के स्पीकर पर क्रिकेट सट्टे की कीमत की आवाज सुनाई दे रही थी। क्रिकेट सट्टे में लक्ष्मीकांत शर्मा की भूमिका का पता लगाया जा रहा है। लार्डगंज थाने में मनीष व श्यामलाल के खिलाफ सट्टा एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। सटोरियों को पकड़ने में क्राइम ब्रांच के एएसआइ धनंजय सिंह, प्रधान आरक्षक विजय शुक्ला, आरक्षक बृजेंद्र कसाना, दीपक तिवारी, बीरबल, मोहित उपाध्याय, नितिन मिश्रा, नीरज तिवारी, थाना लार्डगंज के उप निरीक्षक अनिल मिश्रा एवं एएसआइ मनीष जाटव की भूमिका रही।