हैवानियत की सारे हदे पार- गिड़गिड़ाती रही गर्भवती महिला लेकिन हैवानो ने नोच खाया

हैवानियत की सारे हदे पार- गिड़गिड़ाती रही गर्भवती महिला लेकिन हैवानो ने नोच खाया

आगरा के थाना एत्मादपुर क्षेत्र में पति को बंधक बनाकर पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म करने वाले आरोपियों ने हैवानियत की हद पार की थी। शुक्रवार को गिरफ्तार हुए आरोपी योगेश ने पुलिस की पूछताछ में यह सच उगला है। उसने पुलिस को बताया कि वे लोग पति-पत्नी को प्रेमी-प्रेमिका समझ जबरन जंगल में ले गए थे। उनके आपत्तिजनक वीडियो बनाए, फोटो खींचे। इसके बाद ब्लैकमेल कर विवाहिता से दुष्कर्म किया। विवाहिता तीन महीने की गर्भवती है। वह और उसका पति गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन आरोपियों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं।

आरोपियों ने पीड़िता की वीडियोऔर फोटो भी बनाई

एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि 29 मार्च की शाम को पीड़िता पति के साथ मायके जा रही थी। झरना नाला के पास तीन आरोपियों ने दोनों को रोक लिया था। इसके बाद पीड़िता और उसके पति को जंगल में ले जाकर मारपीट की थी। विवाहिता से सामूहिक दुष्कर्म किया था। मोबाइल से वीडियो और फोटो भी बनाए थे। पीड़ित दंपती ने मामले में गौरीशंकर, मोनू और एक अन्य के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी गौरीशंकर निवासी इंदिरा ज्योति नगर, शाहदरा को 31 मार्च को गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपियों ने बताई दुष्कर्म की पूरी कहानी

तीनों आरोपियों को लग रहा था कि पति-पत्नी प्रेमी-प्रेमिका है। इस पर पति-पत्नी को निर्वस्त्र कराकर जबरन आपत्तिजनक फोटो खींचे। वीडियो भी बनाया। उनसे कहा कि वीडियो और फोटो वायरल कर देंगे। इन फोटो और वीडियो को दिखाकर ही तीनों ने विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर पति की पिटाई लगाई। इससे विवाहिता डर गई। उनके रुपये, कुंडल लूट लिए। घटना के बाद पति-पत्नी काफी डर गए थे। आरोपी उन्हें जान से मारने की धमकी देकर गए थे। इस कारण दोनों आधा घंटे बाद बाहर आए थे। उन्हें डर था कि आरोपी फिर से आ सकते हैं।  पीड़िता ने पुलिस को जानकारी दी है कि वह तीन महीने की गर्भवती है।

गिड़गिड़ाती रही गर्भवती महिला

आरोपियों से भी उसने छोड़ने की गुहार लगाई थी। उनसे कहा था कि वह गर्भवती है। उसे जाने दो। मगर, वह नहीं माने थे। उधर, पति का कहना है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। पुलिस ने आरोपियों को कड़ी सजा दिलाने के लिए केस को गंभीरता से लिया है। उधर, योगेश का नाम बाद में सामने आया है। इसलिए उसकी शिनाख्त कराई जाएगी। यह जेल में मजिस्ट्रेट के सामने होगी। पीड़िता से उसकी पहचान कराई जाएगी। वहीं तीसरे आरोपी की तलाश में पुलिस जुटी हुई है।