MP CRIME: तीन महीने की प्रेम कहानी और 20 दिन की शादी का दुखद अंत

MP CRIME: तीन महीने की प्रेम कहानी और 20 दिन की शादी का दुखद अंत

 

 

 

 

 

ग्वालियर: ग्वालियर में एक प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत सामने आया है ।इस कहानी में युवती की जान जा चुकी है। जान देने की वजह वही शख्स निकला जिसके साथ उसने सब के खिलाफ जाकर सात फेरे लिए थे। दरअसल लव मैरिज के सिर्फ 20 दिन बाद नवविवाहित नेहा चौहान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके सुसाइड के मामले में पुलिस ने उसके ही पति पर FIR दर्ज की है।

 

 

 

 

 

जांच में खुलासा हुआ है कि पति की थर्ड डिग्री टॉर्चर से परेशान नेहा के सपने टूट चुके थे, जिसके बाद उसने जान देने का फैसला लिया था। बताया जा रहा है कि शादी के बाद से ही पति रोजाना बेरहमी से उसकी पिटाई कर रहा था। पुलिस आरोपी पति की तलाश कर रही है।

 

 

 

 

 

घटना ग्वालियर के हरगोविंदपुरम में 12 सितंबर को हुई थी। पति के मारपीट से परेशान नेहा चौहान ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था। पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ है। दरअसल 22 साल की नेहा चौहान सिटी सेंटर पटेल नगर में शोरूम के पास प्राइवेट ऑफिस में जॉब करती थी। काम पर आने जाने के दौरान करीब 3 महीने पहले उसकी दोस्ती पटेल नगर हरगोविंदपुरम में रहने वाले राहुल बाथम से हुई थी। धीरे-धीरे दोनों में मुलाकात होने लगी। 22 अगस्त को दोनों ने अपने परिवार के खिलाफ जाकर मंदिर में लव मैरिज कर ली थी लेकिन शादी के बाद से प्रेमी जोड़े में झगड़े शुरू हो गए।

 

 

 

 

 

 

11 सितंबर की रात को भी नेहा और राहुल के बीच विबाद हुआ था। 12 सितंबर सुबह जब उसकी नींद खुली तो देखा कि उसी रूम में नेहा ने फांसी लगा ली थी। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू की थी। मृतक के मायके पक्ष ने पति पर हत्या का आरोप लगाया था।

 

 

 

 

 

 

 

नेहा ने अपने परिवार से लड़कर राहुल से शादी की थी लेकिन शादी के बाद अचानक सारे सपने चकनाचूर हो गए। राहुल के पास ना तो काम था न ही पैसे थे। ऊपर से वह शराब पीने का आदी था और मारपीट करता था। 19 दिन में उसने नेहा को कई बार पीटा था। इसलिए उसने आत्महत्या का कदम उठाया। अब पुलिस ने आरोपी पति पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर लिया है।