CG: आंगनबाड़ी केन्द्र में बेहोश मिली कार्यकर्ता, हाथ पैर बंधे

CG: आंगनबाड़ी केन्द्र में बेहोश मिली कार्यकर्ता, हाथ पैर बंधे

 

 

 

 

 

गरियाबंद:  गरियाबंद जिले के फिंगेश्वर थाना क्षेत्र के ग्राम बासीन आंगनबाड़ी केंद्र में आज दोपहर दिन-दहाड़े आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ अज्ञात व्यक्ति द्वारा लूट की घटना को अंजाम दिया गया है। अज्ञात लुटेरे के द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के दोनों हाथ-पैर रस्सी से बांध कर  बेहोश कर घटना को अंजाम दिया गया है। . 

 

 

 

 

 

 

 

ग्रामीणों से प्राप्त जानकारी अनुसार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सरस्वती साहू रोबा की रहने वाली हैं और ग्राम बासीन के आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 9 में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं। रोज की तरह वह आज सुबह आंगनबाड़ी सहायिका रेखा ध्रुव के साथ आंगनबाड़ी केंद्र संचालित कर रही थीं।

 

दोपहर 12 बजे सहायिका रेखा ध्रुव अपने घर चली गई, जिसके बाद से सरस्वती केंद्र में अकेली मौजूद थीं। इसी दौरान अज्ञात व्यक्ति घटना को अंजाम दे गया। दोपहर 2 बजे रोज की तरह जब सरस्वती का पति लोकेश साहू, सरस्वती के भाई सुरेंद्र के साथ उसे घर वापिस ले जाने केंद्र पहुंचा तो देखा कि केंद्र की खिड़कियां बंद थीं जबकि एक दरवाजा खुला हुआ था। 

 

 

 

 

जब वे दोनों दरवाजे के सहारे अंदर पहुंचे, तो देखा कि सरस्वती जमीन पर बेहोश पड़ी हुई है और उसके हाथ-पैर बंधे हुए हैं। सरस्वती के गले से मंगलसूत्र और हाथ व अन्य अंगों में पहने जेवरात गायब थे।. इसके अलावा उसका मोबाइल जमीन पर चकनाचूर हालत में पड़ा हुआ और कांच की चूड़ियां टूटकर जमीन पर फैली हुई थीं। 

 

इसके बाद लोकेश और सुरेंद्र ने घटना की जानकारी आसपास के लोगों को देते हुए संजीवनी 108 को फोन कर मौके पर बुलाया। संजीवनी की सहायता से बेहोश सरस्वती को फिंगेश्वर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां इस वक्त उसका उपचार जारी है। मामले की जानकारी मिलते ही फिंगेश्वर थाना प्रभारी राजेश जगत अपने दल बल के साथ घटना स्थल का मुआयना करने पहुंचे तथा आसपास के लोगों से घटना की पूछताछ की।