Monday, February 6, 2023
Homeधर्म-त्यौहारCHANAKYA NITI: आखिर किसके बिना नष्ट हो जाती हैं महिलाएं, जानें किन...

CHANAKYA NITI: आखिर किसके बिना नष्ट हो जाती हैं महिलाएं, जानें किन बातों का उल्लेख किए हैं आचार्य

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य बहुत बड़े नीतिकार, सलाहकार और अर्थशास्त्री थे। इनकी नीतियां विश्व प्रसिद्ध है। आचार्य की आज्ञा का पालन राजा महाराजा किया करते थे फिर अपने प्रजा पर शासन करते थे। आज के समय में आचार्य सभी के लिए प्रेरणादायक हैं।

Chanakya Niti: किसी से पहली मुलाकात में रखें इन बातों का ध्यान, वरना भुगतना  पड़ सकता है नुकसान - News Nation
CHANAKYA NITI

आचार्य जीवन में घटने वाली कई घटनाओं को अपनी नीति में उल्लेख किए हैं। आचार्य महिला एवं पुरुष के चरित्र को भी दर्शाए हैं। आचार्य चाणक्य कहते हैं कि महिलाएं अपने पति के बिना नष्ट हो जाती हैं। इन महिलाओं का कभी भला नहीं हो पाता है। इसके अलावा आचार्य तीन और मुख्य बातों पर भी वर्णन किए हैं। तो आज इस आर्टिकल में आचार्य की कही हुई बातों को विस्तार से जानेंगे।

इस श्लोक में आचार्य किए हैं व्याख्या

हतं ज्ञानं क्रियाहीनं हतश्चाज्ञानतो नरः ।
हतं निर्णायकं सैन्यं स्त्रियो नष्टा ह्यभर्तृकाः ॥

आचरण के बिना ज्ञान है व्यर्थ

आचार्य चाणक्य कहते हैं आचरण के बिना मनुष्य का ज्ञान व्यर्थ है। अगर एक ज्ञानी व्यक्ति के पास आचरण नहीं हैं, संस्कार नहीं है तो उसका सभी ज्ञान व्यर्थ हो जाता है। एक ज्ञानी व्यक्ति के पास आचरण, संस्कार होना चाहिए। बिना इसके व्यक्ति अपना जीवन नहीं जी सकता है।

PMUY: केंद्र सरकार ने शुरू ये योजना, LPG सिलेंडर यूज करने वालों को होगा लाभ, जानिए क्या है पूरी खबर?

Gold Silver Price: सोना-चांदी के दामों में भारी गिरावट, जानिए आज के रेट

अज्ञानता के बिना नष्ट हो जाता है मनुष्य

आचार्य चाणक्य कहते हैं अज्ञानता के बिना मनुष्य का जीवन नष्ट हो जाता है। हर एक पुरुष को किसी न किसी चीज का ज्ञान होना बेहद जरूरी है। अज्ञानी लोगों को कहीं मान सम्मान नहीं मिलता है। मनुष्य हमेशा अपने अज्ञानता के कारण मुसीबत में फंस जाता है।

CHANAKYA NITI

सेनापति के बिना कुछ नहीं है सेना

आचार्य चाणक्य का नीति में कहना है कि सेनापति के बिना सेना का कोई वर्चस्व नहीं है। बिना सेनापति के सेना का कोई मतलब नहीं होता है। ऐसे सेना को कभी भी महत्व नहीं दिया जाता है। इसलिए सेना के लिए सेनापति का होना बेहद जरूरी है।

CHANAKYA NITI: आखिर किसके बिना नष्ट हो जाती हैं महिलाएं, जानें किन बातों का उल्लेख किए हैं आचार्यपति के बिना पत्नी हो जाती है नष्ट

CHANAKYA NITI: आखिर किसके बिना नष्ट हो जाती हैं महिलाएं, जानें किन बातों का उल्लेख किए हैं आचार्य आचार्य चाणक्य कहते हैं पत्नी की मान मर्यादा तब तक होती है जब तक उसका पति उसके साथ होता है। पति के बिना पत्नी का कोई महत्व नहीं है। पति के बिना पत्नी दुष्ट लोगों से बेहद सताई जाती है। पति अपनी पत्नी का रक्षक होता है। इसलिए पति के बिना पत्नी का कोई महत्व नहीं है वो नष्ट हो जाती है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments