बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा बोले सीएम शिवराज- खतरा अभी टला नहीं है

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा बोले सीएम शिवराज- खतरा अभी टला नहीं है

 

 

 


 

ग्वालियर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने हेलीकॉप्टर के जरिए दतिया, श्योपुर और शिवपुरी का दौरा किया। साथ ही सीएम ने भिंड-मुरैना में बाढ़ के हालत का भी जयाजा लिया। उन्होंने भिंड-मुरैना जिले में चंबल नदी से लगे हुए गांवों का हवाई दौरा किया। सीमए ने इन जिलों के लिए अलग से एयरफोर्स और सेना की सहायत मांगी है। 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

दौरे के बाद सीमए ने कहा कि शिवपुरी, श्योपुर में नदियों में लगातार जलस्तर कम हो रहा है। लेकिन खतरा अभी पूरी तरीके से टला नहीं है। कई निचले इलाके हैं, जहां अभी पानी भरा हुआ है। सरकार की पहली प्राथमिकता सभी को सुरक्षित स्थान पर लाकर उनके रहने और खाने की व्यवस्था करना है। चंबल नदी में लगातार जलस्तर बढ़ रहा है।

 

 

 

 

 

 

 

 

1225 गांव बाढ़ से हैं प्रभावित: 

अभी तक 1225 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। सबसे ज्यादा शिवपुरी, दतिया ग्वालियर, गुना, भिंड, मुरैना और श्योपुर में हालात बिगड़ चुके हैं। अभी तक 5800 लोगों को बचाया जा चुका है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर चर्चा की और प्रदेश में बाढ़ की स्थिति और रेस्क्यू ऑपरेशन से प्रधानमंत्री को अवगत कराया है। फिलहाल 1400 लोग बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में फंसे हुए हैं। इन्हें निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

 

 

 एसडीआरएफ की 29 टीमें बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। एनडीआरएफ की 3 टीमें ग्वालियर और दो टीम शिवपुरी में बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। आर्मी के 4 कॉलम शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया और श्योपुर में बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। एयर फोर्स के हेलीकॉप्टरों ने बचाव कार्य शुरू कर दिया है।