Wednesday, February 8, 2023
Homeराष्ट्रीय न्यूज़EPFO UPDATE: ईपीएफओ डिफॉल्टर्स के लिए बजी खतरे की घंटी, भरना पड़ेगा...

EPFO UPDATE: ईपीएफओ डिफॉल्टर्स के लिए बजी खतरे की घंटी, भरना पड़ेगा भारी जुर्माना, जानें बड़ा अपडेट

EPFO: इन दो शर्तों पर ही निकाला जा सकता है पीएफ का पूरा पैसा, जानिए कैसे  आपके अकाउंट में ट्रांसफर होगा फंड | Zee Business Hindi
EPFO UPDATE

EPFO Update: ईपीएफओ यानि कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन अपने सदस्यों को कई तरह की सुविधाएं देता है। इन सभी तरह की सुविधाओं का लाभ उठाकर कर्मचारियों को काफी फायदा होता है। अगर आप भी EPFO के सब्सक्राइबर हैं तो आपको इस खबर पर ध्यान देना चाहिए। दरअसल, EPFO की तरफ से एक बड़ा अपडेट (EPFO Update) आया है। आपको बता दें कि ईपीएफओ ने अपने सदस्यों को एक ट्वीट के जरिए आगह किया है। ईपीएफओ का ये ट्वीट क्या है और क्या है इसकी जानकारी, आइए जानते हैं।

EPFO ने ट्वीट करके दी जानकारी

EPFO ने आज यानि कि 19 दिसंबर को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट किया है। ईपीएफओ ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘अंशदान पर चूक करने वाले नियोक्ता देय राशि पर नुकसान और ब्याज का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी हैं।’

ईपीएफओ ने शेयर की ये फोटो

Online Shopping: Flipkart, Amazon को फेल कर रही ये सरकारी वेबसाइट, जाने डिस्काउंट 

इसके साथ ही EPFO ने एक फोटो शेयर की है, जिसमें लिखा है कि नुकसान और ब्याज का भुगतान EPFO को देय है। इसमें आगे जानकारी दी गई है कि EPFO सदस्यों का अंशदान चूकने की स्थिति में EPFO नुकसान की धारा 14बी और ब्याज की धारा 7Q के तहत देय राशि का भुगतान करना होगा। 

EPFO UPDATE
EPFO UPDATE

EPFO ने जारी किया नुकसान की वसूली का रेट

वहीं, EPFO ने उन नियोक्ताओं से नुकसान वसूल किया जाएगा, इसके रेट दिए गए है। इसमें 2 महीने से कम में 5 फीसदी सालाना की दर से नुकसान भरना होगा। वहीं, 2 से 4 महीने के टाइम पीरियड में 10 फीसदी सालाना की दर से नुकसान वसूला जाएगा। 4 से 6 महीने के पीरियड के लिए 15 फीसदी सालाना की दर से नुकसान वसूला जाएगा। वहीं, 6 महीने से अधिक के समय के बाद 25 फीसदी की सालाना की दर से नुकसान वसूला जाएगा। इसके साथ ही EPFO ने जानकारी देते हुए कहा कि किसी भी नुकसान से बचने के लिए सभी सदस्यों को समय से अपना ईपीएफ अंशदान का भुगतान करना होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments