Sunday, January 29, 2023
HomeऑटोमोबाइलFact About Keyboard: क्या आप जानते हैं की-बोर्ड में ‘F’ और ‘J’ पर...

Fact About Keyboard: क्या आप जानते हैं की-बोर्ड में ‘F’ और ‘J’ पर Dash क्यों बना होता है?

Fact About Keyboard: आजकल बहुत कम ही लोग ऐसे होंगे जो कम्प्यूटर या लैपटॉप न इस्तेमाल करते हों. जिस तरह का वर्क कल्चर हो गया है उसमें इन दोनों के बिना काम ही नहीं बनेगा. 24 घंटे में 20 घंटे लैपटॉप या कम्प्यूटर का इस्तेमाल करते समय कभी की-बोर्ड के बटनों पर ध्यान दिया है. ख़ासकर ‘F’ और ‘J’ पर, देखिएगा इन दोनों Keys पर Dash बना होता है.


Fact About Keyboard

देख लिया टच करके, तो चलिए फिर जान भी लीजिए कि, क्यों Dash बाकी बटन में नहीं सिर्फ़ इन्हीं दोनों में होता है?

वैसे तो जो लोग टाइपिंग सीखते होंगे उन्हें पता होगा, लेकिन अब सबलोग तो टाइपिंग नहीं सीखते हैं इसलिए उन लोगों को बताना हमारा फ़र्ज़ है.

Fact About Keyboard

फट-फट की-बोर्ड चलाने वालों के ये पता होना बहुत ज़रूरी है कि KEYS में ‘F’ और ‘J’ पर एक डैश क्यों बना होता है? सबसे ज़रूरी बात कि ये Dash आपकी टाइपिंग स्पीड और स्पेलिंग की ग़लतियों दोनों को बेहतर करता है. इन Keys को Home Row कहते हैं. अगर आपको Dash के अनुसार टाइपिंग करनी आ गई तो समझिए आपकी ग़लतियां होना कम हो जाएगा.

Ever wondered why 'F' and 'J' keyboard keys have small bumps on them? -  Entertainment

Fact About Keyboard

दरअसल, ये ‘F’ और ‘J’ पर उभरा हुआ निशान का ज्ञान ही आपको की-बोर्ड पर कम और स्क्रीन पर ज़्यादा देखने की समझ देता है. जब आप इन दोनों की Keys के अनुसार, टाइपिंग करते हैं तो आपके दोनों हाथों की तर्जनी उंगली (Point Finger) ‘F’ और ‘J’ पर होती हैं. इससे आपको बाकी Keys को याद रखने में मदद मिलती है.

Lifestyle: सर्दियों में त्वचा काफी ड्राई हो जाती है तो छुटकारा पाना हुआ आसान,जाने कैसे

Normal Delivery Stitches: नॉर्मल डिलीवरी में टांके क्यों लगते हैं और ठीक होने में कितना समय लगता है ?

India Today के अनुसार

https://anokhiaawaj.com/lifestyle-if-the-skin-becomes-very-dry-in-winter-t/

इंटरेस्टिंग फ़ैक्ट्स एंड इंफ़ॉर्मेशन (IFAI) पोर्टल पर अप्रैल 2016 में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि, ये लकीरें हमें अपनी उंगलियों को सही स्थिति में रखने में मदद करती हैं ताकि कीबोर्ड को देखे बिना टाइप कर सकें. अगर हम इन लकीरों का इस्तेमाल करते हुए टाइप करेंगे तो उंगलियों की पोजिशन ठीक रहेगी. इससे स्पीड भी बढ़ती है.

आपको बता दें, की-बोर्ड में इन लकीरों का आविष्कार June E Botich ने साल 2002 में किया था.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments