आगरा में पकड़ाया फर्जी दरोगा,लेकिन बेल्ट और जूते ने खोली पोल

आगरा में  पकड़ाया फर्जी दरोगा,लेकिन बेल्ट और जूते ने खोली पोल

 

आगरा कैंट रेलवे स्टेशन के बाहर से जीआरपी ने आरपीएफ के फर्जी दरोगा को गिरफ्तार किया है। वह पुलिस की वर्दी में स्टेशन के बाहर लोगों को धमका रहा था। पुलिस की पूछताछ में बोला कि वर्दी पहनकर सफर करने पर कोई टिकट नहीं मांगता है। इस कारण वह वर्दी पहनकर सफर कर रहा था। 

 

 

 

 



इंस्पेक्टर आगरा कैंट संजय खरवार ने बताया कि शु्क्रवार को एसआई जीआरपी सुनील कुमार व आरपीएफ के एसआई जयराम यादव अपनी टीम के साथ कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर जांच कर रहे थे। तभी उन्हें जानकारी मिली कि आरपीएफ का दरोगा लोगों को धमका रहा है। इस पर पुलिस टीम पहुंची तो एक युवक आरपीएफ की वर्दी में था। उसने आकाश मधुरिया की नेम प्लेट लगा रखी थी। पूछताछ में वह सही जवाब नहीं दे सका। इस पर पुलिस टीम उसे थाने ले आई। उसके पास से फर्जी आईडी कार्ड भी मिला है। उसने अपना नाम आकाश मधुरिया निवासी लक्ष्मीगंज, ग्वालियर बताया। पुलिस ने बताया कि वह करीब दो साल से इसी तरह से ट्रेनों में वर्दी में यात्रियों से वसूली भी कर रहा था। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

 

 

 

 

 

 

 बेल्ट और जूते ने खोली पोल

फर्जी दरोगा ने वर्दी के साथ काली बेल्ट और काले जूते पहन रखे थे। इसी पर आरपीएफ के कर्मियों को शक हो गया। इंस्पेक्टर ने बताया कि वर्दी के साथ ब्राउन बेल्ट व जूते होते हैं।