गणेश विसर्जन : गणपति विसर्जन के दौरान इन बातों का रखें ध्यान, जानें शुभ समय

गणेश विसर्जन :   गणपति विसर्जन के दौरान इन बातों का रखें ध्यान, जानें शुभ समय

 

 

 

 

धर्म:  ज्ञान और सद्बुद्धि के दाता गणेश जी आज अनंत चतुदर्शी पर विदा हो जाएंगे. सुबह से ही गणेश विसर्जन की तैयारियां शुरू हो गई हैं. बैंड-बाजों की धुन के साथ भक्त अगले साल गणेश जी के फिर आगमन की कामना को लेकर बप्पा को विदाई दे रहे हैं. गणेश विसर्जन से पहले जान लीजिये विधि और पूजा का शुभ मुहूर्त...

 

 

 

 

 

अनंत चतुर्दशी तिथि 19 सितंबर रविवार के दिन सुबह 5:59 बजे से शुरू होगी और 20 सितंबर सोमवार को सुबह 5:28 बजे समाप्त होगी. इस दिन पूजा का शुभ मुहूर्त रविवार सुबह 6:08 बजे से सोमवार सुबह 5:28 बजे तक है. जिसमें किसी भी समय गणपति जी का विसर्जन किया जा सकता है.

 

 

 

गणेश विसर्जन का शुभ चौघड़िया मुहूर्त

 

प्रातः मुहूर्त – 7:40 से 12:15 बजे तक

 

मध्याह्न मुहूर्त – 1:46 बजे से से 3:18 बजे तक

 

संध्या मुहूर्त – 6:21 बजे से 10:46 बजे तक

 

रात्री मुहूर्त – 1:43 बजे से 3:12 बजे तक (20 सितंबर)

 

प्रातः मुहूर्त – 4:40 बजे से 6:08 बजे तक (20 सितंबर)

 

 

 

 

 

 

 

इस तरह करें विसर्जन 


गणेश विसर्जन के दौरान कुछ खास चीजों का ध्यान रखें. विसर्जन से पहले उन्हें स्नान कराकर नए वस्त्र पहनाएं. रेशम के कपड़े में मोदक, दूर्वा घास, सुपारी और दक्षिणा बांधकर रखें. इस बंधी हुई पोटली को भगवान गणेश की मूर्ति के साथ रखें और भगवान गणेश की पूजा करें. जलकुंड के पास पहुंचकर मूर्ति को पश्चिम दिशा में बांधे गए रेशमी कपड़े की पोटली के साथ विसर्जित करें.