Satna में शौच के लिए गई महिला के साथ गैंगरेप

Satna में शौच के लिए गई महिला के साथ गैंगरेप

सतना। जिले में बढ़ रही आपराधिक गतिविधों से ऐसा लगता है कि जैसे पुलिस का भय अपराधियों को नहीं है। या फिर पुलिस ही अपराधियों से मिली हुई है जिससे उनके हौसले इतने बुलंद हैं। इस मामले में एक कहावत चरितार्थ होती दिख रही है जिसमें कहा गया है कि 'जब सइयां भये कोतवाल तो अब डर काहे का। हाल यह है कि सभापुर थाना क्षेत्र में शौच के लिए गई महिला के साथ दो आरोपियों ने गैंगरेप किया। पुलिस ने सक्रियता का परिचय देते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

 

 

 

 

जानकारी के अनुसार महिला शौच के लिए गई थी। लेकिन वहीं रास्ते में पहले से घात लगा कर बैठे आरोपी विजय रावत और प्रदीप रावत ने उसे पकड़ लिया। उसे जबरन उठाकर दूर ले गये और बारी-बारी से बलात्कार किया। लोगो ने महिला का मुँह दबा लिया था जिससे वह बोल नहीं पाई।

 

 

 

 

 

पुलिस ने एक टीम बनाकर आरोपियों को पकड़ने के लिए भेज दिया। देर रात दोनो ही आरोपियों के पुलिस ने पकड़ कर हवालात में डाल दिया वहीं दूसरे दिन मंगलवार को न्यायालय में पेश कर दिया। जहां से उन्हे जेल भेज दिया गया है। घटना के बाद आरोपी भागने की फिराक में थे लेकिन पुलिस की घेराबंदी में वह चंगुल में फंस गये। पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्रवाई से आरोपियो को भागने का मौका नही मिला। सभापुर थाना प्रभारी एसपीएस चंदेल ने आईपीसी की धारा 376, 376डी, 34 के तहत अपराध कायम किया है।