Wednesday, February 8, 2023
Homeधर्म-त्यौहारGEETA KA GYAAN: ऐसे लोग कभी नहीं रहते हैं भाग्य पर निर्भर,...

GEETA KA GYAAN: ऐसे लोग कभी नहीं रहते हैं भाग्य पर निर्भर, सत्य और कर्म से जीते हैं जीवन

Geeta ka gyaan: भगवान श्री कृष्ण का जन्म द्वापर युग में जग को प्रेम का पाठ पढ़ाने के लिए हुआ था। द्वापर युग में ही श्री कृष्ण महाभारत के युद्ध में अर्जुन को गीता का उपदेश दिए थे। गीता हिन्दू धर्म का सबसे बड़ा ग्रन्थ है। इस ग्रन्थ में लिखी बातें बिलकुल सच पर आधारित है। आज के समय में भी लोग अपने जीवन को बेहतर ढंग से जीने के लिए गीता के उपदेश का पालन करते हैं।

Geeta Ka Gyaan
Geeta Ka Gyaan

Geeta Ka Gyaan: आपको बता दें, भगवान श्री कृष्ण ने गीता में कई सारी बातें ऐसी कहीं है जिसको अपनाकर आप तरक्की के मार्ग पर चलने लगेंगे। श्री कृष्ण कहते हैं कि ऐसे लोग कभी भी अपने भाग्य पर निर्भर नहीं रहते हैं। ये लोग अपने कर्म पर विश्वास करते हैं। इसके अलावा भी गोविन्द कई सारी बातों को गीता में दर्शाए हुए हैं। आज इस आर्टिकल में हम गीता के उपदेश के बारे में जानेंगे और श्री कृष्ण की बातों से प्रेरणा लेंगे। तो आइए जानते हैं विस्तार से।

Geeta Ka Gyaan: ऐसे लोग नहीं रहते हैं भाग्य पर निर्भर

गीता में श्री कृष्ण ने कई बातों पर उल्लेख किया है। गोविंद कहते हैं कि जो लोग डरपोक और कमजोर होते हैं वो लोग ही भाग्य पर निर्भर रहते हैं। ये लोग अपना पूरा जीवन भाग्य पर छोड़ देते हैं। जो लोग मजबूत होते हैं और अपने कर्म पर भरोसा करते हैं वो लोग कभी भी भाग्य पर निर्भर नहीं रहते हैं। ये लोग अपने कर्म पर भरोसा करते हैं। कभी भी ये अपने भाग्य पर निर्भर नहीं रहते हैं।

Old Coin Sell: 25 पैसे का ये सिक्का है तो आप भी बन सकते है लखपति, जल्दी करें

121 Krishna Quotes In Hindi भगवान कृष्ण द्वारा परम सत्य उपदेश
Geeta Ka Gyaan

कभी भी दिखावे के लिए नहीं बनें बेहतर

भगवान श्री कृष्ण कहते हैं कि व्यक्ति को सिर्फ दिखावे के लिए अच्छा नहीं बनना चाहिए। परमात्मा की नजर सभी पर रहती है। हमेशा व्यक्ति को मन और तन दोनों से ही बेहतर इंसान बनना चाहिए। कभी भी मुंह पर कुछ और पीठ पीछे कुछ और वाला व्यक्तित्व नहीं रखना चाहिए। इससे भगवान आपको कभी क्षमा नहीं करेंगे।

Saphala Ekadashi: 19 दिसंबर को है सफला एकादशी, ये हैं पूजा मुहूर्त, यहां जानिए व्रत और पूजा विधि

कभी भी न करें घमंड

श्री कृष्ण कहते हैं व्यक्ति को कभी घमंड नहीं करना चाहिए। शरीर नश्वर होता है। वहीं आत्म अमर है। इसलिए कभी भी व्यक्ति को अहंकार, घमंड नहीं करना चाहिए। हमेशा सत्य को स्वीकार कर निरंतर आगे बढ़ते रहना चाहिए। वरना आपको जीवन में कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments