Sunday, January 29, 2023
Homeराष्ट्रीय न्यूज़manufacturing की दुनिया में भारत की उपलब्धि,5 अरब डॉलर के आंकड़े को...

manufacturing की दुनिया में भारत की उपलब्धि,5 अरब डॉलर के आंकड़े को पार कर गया मोबाइल फोन निर्यात

manufacturing: पीएम मोदी ने इस वित्तीय वर्ष के अप्रैल से अक्टूबर में साल दर साल दोगुने से अधिक मोबाइल फोन निर्यात होने पर प्रसन्नता व्यक्त की है। गौरतलब हो, देश में मोबाइल फोन का निर्यात महज 7 महीनों के भीतर 5 बिलियन डॉलर के आंकड़े को पार कर गया है, जो कि पिछले साल की इसी अवधि में भारत के 2.2 बिलियन डॉलर के दोगुने से भी अधिक है।

मोबाइल फोन बनाने के लिए एपल, सैमसंग समेत 10 कंपनियों को मिली मंजूरी; अगले  पांच सालों में बनेंगे 10.5 लाख करोड़ रुपए के स्मार्टफोन, 11000 करोड़ रुपए  का होगा निवेश | Apple iPhone, Samsung mobile phones to be Made In India,  Govt clears 10 companies for mobile ...
manufacturing

भारत निर्माण की दुनिया में निरंतर कर रहा प्रगति
बता दें इस वित्त वर्ष में अप्रैल से अक्टूबर के बीच मोबाइल फोन का निर्यात दोगुना से अधिक होकर पांच अरब डॉलर के आंकड़े को पार कर गया है। पिछले वर्ष की इसी अवधि में यह 2 अरब 20 करोड़ डॉलर था।

manufacturing: PM मोदी ने प्रसन्नता की व्यक्त

2020 මිලදී ගන්න හොදම Smartphones 15
manufacturing


manufacturing पीएम मोदी ने देश के मोबाइल फोन निर्यात में बढ़ोतरी को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की है। बता दें इस वित्त वर्ष में अप्रैल से अक्टूबर के बीच मोबाइल फोन का निर्यात दोगुना से अधिक होकर पांच अरब डॉलर के आंकड़े को पार कर गया है जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में यह 2 अरब 20 करोड़ डॉलर था। इस संबंध में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर के एक ट्वीट के जवाब में पीएम मोदी ने कहा कि ”भारत विनिर्माण के क्षेत्र में निरंतर प्रगति कर रहा है।”

मौजूदा गति से किस मुकाम पर पहुंचेगा देश ?
manufacturing यह उम्मीद की जा रही है कि मौजूदा गति से, भारत से निर्यात पूरे वित्त वर्ष 2022 के आंकड़े को दिसंबर की शुरुआत में ही पार कर लिया जाएगा और वित्तीय वर्ष 2023 को यह 8.5-9 बिलियन डॉलर की सीमा को भी पार कर लेगा। वहीं भारत ने वित्त वर्ष 2022 में 5.8 बिलियन डॉलर के मोबाइल फोन का निर्यात किया। यानि इस वित्त वर्ष में अप्रैल से अक्टूबर के बीच मोबाइल फोन का निर्यात दोगुना से अधिक होकर पांच अरब डॉलर के आंकड़े को पार कर गया जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में ये 2 अरब 20 करोड़ डॉलर था।

manufacturingभारत के 90% मोबाइल फोन निर्यात में इन बड़ी कंपनियों का योगदान
manufacturing उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना यानि PLI द्वारा समर्थित, एप्पल और सैमसंग भारत के मोबाइल फोन निर्यात में 90% से अधिक का योगदान करती हैं। उद्योग निकाय इंडिया सेल्युलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के मुताबिक, जैसे-जैसे निर्यात बढ़ रहा है, भारत ने वित्त वर्ष 2022 में मोबाइल आयात पर निर्भरता को भी लगभग 5 प्रतिशत तक कम कर दिया है, जो 2014-15 में 78% के उच्च स्तर पर था। वहीं अब भारत का लक्ष्य 2025-26 तक 60 बिलियन डॉलर के सेल फोन का निर्यात करना है।

Hyundai i20 की इस कार का शानदार लुक और तगड़ा माइलेज , जानकर खरीदने पर हो जाओगे मजबूर

फोन का निर्यात साल दर साल दोगुने से भी ज्यादा
manufacturing स्पष्ट है कि केंद्र सरकार के प्रयासों से शुरू की गई दूरदर्शी पीएलआई योजना बहुत कारगर साबित हो रही है। इसी से आज देश का मोबाइल फोन निर्यात, 7 महीनों के भीतर $5 बिलियन के आंकड़े को पार कर गया है यह बीते वर्ष इसी अवधि में भारत के $2.2 बिलियन के मोबाइल निर्यात से लगभग दोगुना है।

दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फोन कंपनियों को किया आकर्षित
उल्लेखनीय है कि भारत सरकार द्वारा शुरू की गई PLI योजना ने पूरी दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फोन कंपनियों को आकर्षित किया है। इनमें एप्पल जैसी बड़ी कंपनी भी अपने परिचालन का विस्तार करने और भारत में नए आधार स्थापित करने के लिए तैयार नजर आ रही हैं।

Hero MotoCorp Price Hike: दिसंबर से महंगे हो जाएंगे दोपहिया वाहन, जानें क्या है वजह

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments