मध्यप्रदेश: ऑनलाइन गेम खेलने की लत ने छीनी 20 वर्षीय युवती की जान

मध्यप्रदेश: ऑनलाइन गेम खेलने की लत ने छीनी 20 वर्षीय युवती की जान

इंदौर। मध्य प्रदेश  में ऑनलाइन गेम्स से होने वाली आत्महत्याओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 10 वर्ष से लेकर 20 साल तक की उम्र के बच्चे ऐसी घटनाओं का शिकार हो रहे हैं और कारण है ऑनलाइन गेम में बढ़ती लत और उसमें हारे हुए पैसों का कर्ज़।

 

 

ताजा मामला इंदौर का है। जहां एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या  कर ली। परिजनों का कहना है कि युवती ऑनलाइन गेम खेलती थी। वहीं कंपनी की तरफ से उसे लगातार देर रात भी फोन आते थे जिससे वह परेशान चल रही थी। आखिरकार उसने शनिवार शाम फंदे से झूल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

 

 

 

जानकारी के अनुसार इंदौर के गोरी नगर में रहने वाली 20 वर्षीय रक्षा उर्फ राधा धनवारे ने शनिवार शाम फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। हीरानगर पुलिस ने बताया कि मौके से कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है। वहीं पुलिस मामले की जांच कर रही है। युवती के फोन की कॉल डिटेल भी खंगाली जा रही है।

 

 

 

 

 

 

 

 

युवती के परिजनों ने बताया कि युवती ऑनलाइन गेम की शौकीन थी और देर रात तक ऑनलाइन गेम खेला करती थी। ऑनलाइन गेम खेलने से उसके ऊपर कर्ज हो गया था। जिसके चलते कंपनी वाले उसे 2 दिन से लगातार दिन-रात फोन कर रहे थे और इन्हीं सब चीजों से वह परेशान चल रही थी। शनिवार शाम रक्षा के पास किसी कंपनी से कॉल आया जिसके बाद रक्षा ने भाई और मां को बाजार सामान लेने भेज दिया। उसके बाद जब दोनों वापस लौटे तो कमरे में रक्षा को फांसी के फंदे से झूलता हुआ देखा। जिसके बाद दोनों के होश उड़ गए। आनन फानन मैं परिजनों ने पड़ोसियों की मदद से रक्षा को एमवाय अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

 


रक्षा के भाई संजय ने बताया कि वे लोग हरदा के पास ग्राम नौसर के रहने वाले हैं। वह लोग तीन भाई बहन थी जिसमें रक्षा सबसे छोटी थी। नक्शा इंदौर से कंप्यूटर का कोर्स कर रही थी और साथ ही साथ फर्स्ट ईयर की पढ़ाई भी कर रही थी। संजय इंदौर में एलुमिनियम का काम करता है। वहीं पिता गांव में रहकर ही मजदूरी का काम करते हैं और कुछ दिन पहले ही रक्षा इंदौर आई थी।