MP: अधिकारियों-कर्मचारियों पर गिरी गाझ पटवारी-शिक्षक समेत 5 सस्पेंड, 51 कर्मचारियों को नोटिस, 1 बर्खास्त, 1284 के लाइसेंस निलंबित

MP: अधिकारियों-कर्मचारियों पर गिरी गाझ पटवारी-शिक्षक समेत 5 सस्पेंड, 51 कर्मचारियों को नोटिस, 1 बर्खास्त, 1284 के लाइसेंस निलंबित

 

 

 

 

भोपाल। मध्य प्रदेश में लापरवाही पर उमरिया में पंचायत सचिव, भिंड में पटवारी, मंडला मे शिक्षक, सीहोर में पटवारी और उज्जैन में शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है।वही आगर मालवा में 6 एवीएफओ, सतना में उपयंत्री और 8 अभ्यर्थियों, अशोकनगर और विदिशा में 36 अधिकारियों-कर्मचारियों को नोटिस जारी किया गया है। मंडला में अतिथि शिक्षक को बर्खास्त करने की कार्रवाई की गई है। इसके अलावा इंदौर में  1283 और रतलाम में एक लाइसेंस निलंबित/निरस्त किए गए है।

 

 

 

उमरिया में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ईला तिवारी ने रतन सिंह पंचायत सचिव ग्राम पंचायत तामान्नारा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। प्रशासनिक कार्य सुविधा की दृष्टि से शंभू सिंह ग्राम रोजगार सहायक ग्राम पंचायत तामान्नारा को अस्थाई रूप से अग्रिम आदेश तक ग्राम पंचायत तामान्नारा का वित्तीय प्रभार सौंपा गया है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील हो गया है। भिण्ड में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व गोहद श्री शुभम शर्मा द्वारा राजस्व निरीक्षण वृत्त एण्डोरी के प्रतिवेदन पर कार्य में लापरवाही एवं उदासीनता बरतने तथा मुख्यालय पर उपस्थित ना रहने के कारण पटवारी  मनीष नरवरिया सर्वा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में उनको नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी एवं उनका मुख्यालय तहसील कार्यालय गोहद नियत किया गया है।

 

 

 

 

सीहोर के आष्टा अनुविभाग में पदस्थ पटवारी (Patwari) ऋषि यादव को अपने दायित्वों के प्रति घोर लापरवाही बरतने के लिए तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया हैl यादव द्वारा किसान कल्याण योजनान्तर्गत सत्यापन उपरान्त लाभ दिया जाना था और वन अधिकार पट्टाधारियों का सत्यापन एक वर्ष उपरान्त भी नहीं करने पर कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया था, जिसका उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया l साथ ही बिना सूचना दिए निरंतर अनुपस्थित रहने के कारण आष्टा SDM द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।

 

 

 

उज्जैन में निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में वरिष्ठों के आदेशों की अवहेलना करने और मतदान केन्द्र क्रमांक-25 ग्राम घिनौदा तहसील खाचरौद में शासकीय माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक (School Teacher) भरतलाल पाटीदार को BLO नियुक्त किया था, परन्तु उनके द्वारा उक्त कार्य करने से मना करने के कारण कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी  आशीष सिंह ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलम्बन अवधि में  पाटीदार का मुख्यालय अनुविभागीय अधिकारी एवं निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-212 नागदा-खाचरौद में रहेगा। निलम्बन अवधि में इन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी।

 

 

6 एवीएफओ को नोटिस जारी

आगर-मालवा कलेक्टर अवधेश शर्मा ने पशुपालन विभाग की बैठक में  राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम की प्रगति की समीक्षा में INAPH पोर्टल पर गर्भ परीक्षण की प्रविष्टि कम होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए शून्य एवं कम प्रविष्टि करने वाले 6 एवीएफओ को कारण बताओ नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा गया। कलेक्टर ने कहा कि डाटा एन्ट्री का कार्य तीव्र गति से किया जाए। जहां सुविधा नहीं है वे अपने कम्प्यूटर ऑपरेटर को ई-दक्ष केन्द्र पर भेजकर कार्य करवाएं। उन्होंने सभी AVFO को 15 नवम्बर तक शत-प्रतिशत डाटा एन्ट्री करवाने के निर्देश देते हुए लक्ष्य पूर्ति न करने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु प्रस्ताव शासन स्तर पर भेजे जाने की चेतावनी दी।

 

 

 

सतना विधानसभा क्षेत्र 62 रैगांव के उप निर्वाचन के लिये जिला निर्वाचन कार्यालय सतना में स्थापित कंट्रोल रूम के निरीक्षण के दौरान 26 अक्टूबर को रात्रि 11 बजे रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे की पाली में बिना किसी पूर्व सूचना के कर्तव्य पर अनुपस्थित पाये जाने पर उपयंत्री नर्मदा विकास संभाग अमरपाटन नरेन्द्र कुमार जांगड़े को कारण बताओ नोटिस जारी कर 24 घंटे के भीतर समक्ष में उपस्थित होकर जवाब चाहा गया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अजय कटेसरिया ने  जांगड़े को निर्वाचन जैसे अति-संवेदनशील कार्य में उदासीनता और लापरवाही बरतने के फलस्वरूप अनुशासनात्मक कार्यवाही किये जाने की चेतावानी दी है।

 

 

मण्डला में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग ने बताया कि दो दिन पहले कलेक्टर हर्षिका सिंह के दौरे के दौरान माध्यमिक शाला पौंडी माल विकासखंड बीजाडांडी में पदस्थ  चमनधन सिंह ठाकुर उच्च श्रेणी शिक्षक के अनुपस्थित पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।इसके साथ ही साथ ही ठाकुर को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी एवं विभागीय जांच के लिए आरोप पत्रादि पृथक से जारी किये जायेंगे। सहायक आयुक्त ने आदेशित किया है कि इस आदेश की प्रभावशीलता के दौरान  चमनधन सिंह ठाकुर उच्च श्रेणी शिक्षक मा.शा.पौड़ीमाल विकासखंड बीजाडांडी का मुख्यालय कार्यालय विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी नारायणगंज रहेगा और  ठाकुर बिना पूर्व अनुमति प्राप्त किये मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।

 

 

 

 1283 लायसेंस किये गये निलंबित/निरस्त

 

इंदौर जिले में सड़क सुरक्षा नियमों का पालन नहीं करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करते हुए एक हजार 283 लायसेंस निलंबित/निरस्त किये गये।क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी जितेन्द्र सिंह रघुवंशी ने बताया कि इस कार्रवाई के अंतर्गत 814 दो पहियां वाहन चालक 460 चार पहियां वाहन चालक तथा 9 अन्य वाहन चालकों के लाइसेंस निलंबित/निरस्त (Driving Licence) किये गये। जिले में गत सितम्बर माह तक विगत दो माह में आठ हजार 346 वाहनों पर रिफलेक्टर लगवाये गये।

 

 

 

उन्होंने बताया कि मुख्य रूप से उपरोक्त अवधि में निर्धारित सीमा से अधिक गत से वाहन चालने एवं रेड लाइट का उल्लंघन करने पर 776 वाहन चालकों के लायसेंस निलंबित/निरस्त किये गये। साथ ही शराब एवं मद्य पदार्थों के सेवन कर वाहन चलाने पर 399 तथा वाहन चलाते समय मोबाइल का उपयोग करने वाले 99 वाहन चालकों के लायसेंस निलंबित/निरस्त करने की कार्रवाई की गयी।वही रतलाम में लाइसेंस अथॉरिटी तथा उप संचालक कृषि विजय चौरसिया द्वारा जिले के पिपलौदा विकासखंड के मैसर्स आंजना कृषि मंदिर केंद्र पंचेवा का कीटनाशी औषधि लाइसेंस तत्काल प्रभाव से निरस्त किया गया है।

 

 

 

सतना में रिटर्निंग ऑफिसर नीरज खरे ने निरीक्षण रोस्टर निर्धारित कर सभी अभ्यर्थियों को कलेक्ट्रेट कक्ष क्रमांक 32 में निर्धारित तिथिवार एजेंट या स्वयं उपस्थित होकर लेखा परीक्षण कराने का अनुरोध किया था। रोस्टर कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रीय क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी के अधिवक्ता पुष्पेन्द्र बागरी, सैनिक समाज पार्टी के राजा भैया कोरी, निर्दलीय राम गरीब चौधरी, निर्दलीय कल्पना वर्मा, समाजवादी पार्टी के धीरेन्द्र सिंह धीरू, निर्दलीय डॉ राजेन्द्र कुमार वर्मा, निर्दलीय बच्चा सिसोदिया निर्दलीय दद्दू प्रसाद अहिरवार द्वारा अपना दैनिक निर्वाचन व्यय लेखा का निरीक्षण नहीं कराए जाने पर अवगत कराया गया है कि भारत निवा्रचन आयोग के लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 77 के अनुसार लेखा निरीक्षण एवं व्यय लेखा रजिस्टर का निरीक्षण कराते हुए व्यय लेखा पंजी एवं बिल बाउचर की छाया प्रति दो प्रतियों में 24 घंटे के अंदर जबाब सहित उपलब्ध कराने का नोटिस जारी किया गया है।

 

 

 

अशोकनगर कलेक्‍टर आर.उमा महेश्‍वरी ने शासकीय कार्य में लापरवाही एवं उदासीनता बरतने पर कनिष्‍ट आपूर्ति अधिकारी विकासखण्‍ड शेष राव गुजरे को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। कारण बताओं नोटिस का जबाव तीन दिवस में चाहा गया है। नोटिस का जबाव समय पर न देने की स्थिति अनुशांत्‍मक एक पक्षीय कार्यवाही की जाएगी। वही विदिशा कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने CM Helpline के तहत दर्ज आवेदनों को अटेंड नहीं करने वाले एल्-वन स्तर के 35 अधिकारियों – कर्मचारियों को शोकाज नोटिस आदेश जारी किया है।