सतना: जनदर्शन की सभी घोषणाएं पूरी होंगी: शिवराज

सतना: जनदर्शन की सभी घोषणाएं पूरी होंगी: शिवराज

 

 

 

सतना। रैगांव चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सीएम शिवराज और प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपनी ताकत झोंक दी।  सीएम एक बार फिर कोठी पहुंचे और चुनावी सभा को संबोधित किया। सभा के मंच पर जातीय समीकरण भी साधे गए। सत्ता – संगठन से जुड़े तमाम चेहरों की मौजूदगी के जरिए भाजपा ने यह संदेश देने का प्रयास किया कि सब कुछ ठीक है। वहीं, भाजपा प्रत्याशी प्रतिमा बागरी के मंच से ही आंसू छलक आए। उन्होंने कहा – यह खुशी के आंसू हैं।शिवराज सिंह चौहान ने दलदल के लाल अमर शहीद कर्णवीर सिंह को नमन करते हुए कहा कि हम उनकी प्रतिमा स्थापित करेंगे।

 

 

 

 

संस्था का नाम उनके नाम पर रखेंगे। भाई को शासकीय सेवा में रखेंगे। उनकी स्मृति को सहेजेंगे। कमलनाथ ट्विटर की चिड़िया की तरह हैं। ट्वीट करते हैं और उड़ जाते हैं। कहते हैं शिवराज घोषणा वीर हैं, हां भइया हम करते हैं, क्योंकि वीर ही तो घोषणाएं करते हैं। मेरे कमलनाथ भाई कभी जमीन पर तो आओ। कहते हैं नारियल लिए घूमता हूं, तो भाई हां काम करता हूं तो नारियल तो फोडूंगा ही।

 

 

 

 

कॉलेज, तहसील बनवाऊंगा, सीएम राइज स्कूल बनवाऊंगा, रणमत सिंह का स्मारक बनवाऊंगा तो नारियल तो फोडूंगा ही।आज मैं शिवराज सिंह गारंटी दे कर जा रहा हूं, जितनी घोषणाएं जनदर्शन में की हैं सब पूरी करूंगा। हम कमलनाथ थोड़े हैं। मंच पर बृजेन्द्र यादव बैठे हैं, जब काम को कहते थे तो कमलनाथ कहते थे कि चलो-चलो, एक दिन बृजेन्द्र ने भी कह दिया चलो-चलो। कांग्रेस की सरकार हमने नहीं गिराई, कांग्रेस ने ही गिराई। कांग्रेस को जिताया तो वो विकास कहां से करेंगे, दिल्ली, भोपाल में भी सरकार नहीं है।

 

 

 

 

जब थी।भाजपा प्रत्याशी प्रतिमा बागरी मंच पर ही रो पड़ीं। आंसू पोछते हुए उन्होंने कहा – मैं आज खुश भी हूं और मेरा मन भरा भी है। परिस्थितियां विषम भी है, क्योंकि विपक्ष द्वारा भ्रांतियां फैलाई जा रही हैं। आपके दरवाजे पहुंचती हूं तो आप खूब स्नेह देते हैं, आशीर्वाद देते हैं। लेकिन विपक्ष मेरी अग्नि परीक्षा लेने पर तुला हुआ है। ओछी मानसिकता का परिचय विपक्ष दे रहा है। समझ में नहीं आता कि मैं क्या करूं। आपका स्नेह, सहयोग ही मुझे ताकत देता है।