7 साल पहले लापता हुई पत्नी को प्रेमी के साथ वृंदावन में देख, पति के उड़े होश

7 साल पहले लापता हुई पत्नी को प्रेमी के साथ वृंदावन में देख, पति के उड़े होश

ग्वालियर। मध्य प्रदेश  के ग्वालियर के एक शख्स बीते सात साल से अपनी पत्नी और दो बच्चों को तलाश रहा था. जब पत्नी उसे मिली तो शख्स हैरान रह गया. क्योंकि लापता हुई पत्नी ने चार बच्चों के पिता, जो उसका प्रेमी था, उससे शादी रचा ली और वृंदावन में रह रही थी. पुलिस ने प्रेमी के कॉल डिटेल से गुमशुदा पत्नी को ढूंढ निकाला, लेकिन अब पत्नी अपने पति के साथ नहीं, बल्कि प्रेमी के साथ ही रहने पर अड़ी है।

 

 

 

 

 

 

 

 

ग्वालियर के हजीरा इलाके में रहने वाले  जितेन्द्र सिंह कुशवाह शादी 15 साल पहले मुरैना जिले के सबलगढ़ निवासी सुधा जादौन के साथ हुई थी. शादी के बाद सुधा की जिद के चलते जितेंद्र उसके साथ सबलगढ़ में ही सुनील जादौन के मकान में किराए से रहते थे. शादी के दो साल के अंदर ही सुधा ने एक बेटे और एक बेटी को जन्म दिया. कुछ साल बाद जितेंद्र सुधा को लेकर ग्वालियर के हजीरा इलाके में ही रहने लगा. इसी बीच जितेंद्र को राजस्थान के जयपुर में एक कॉल सेंटर में नौकरी मिल गई तो जितेंद्र अपनी पत्नि सुधा औऱ दोनों बच्चों को ग्वालियर के किराए के मकान में छोड़कर नौकरी करने जयपुर चला गया।

 

 

 

 

 

 

2014 से थी लापता


साल 2014 के मार्च महीने में एक रात सुधा अपनी 7 साल की बेटी और 6 साल के बेटे के साथ ग्वालियर से लापता हो गई. मकान मालिक ने जितेंद्र को पत्नि सुधा के अचानक गायब होने की जानकारी दी. जितेंद्र जयपुर से ग्वालियर आ गया, जहां उसने ग्वालियर से लेकर सबलगढ तक सुधा की खोजबीन की, लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चला।

 

 

 

 

 

ग्वालियर में ऑपरेशन मुस्कान चला तो गुमशुदा महिलाओं की फाइलें भी खुलीं. ग्वालियर पुलिस की टीम ने जांच शुरू की तो 2014 में सुधा के परिजनों ने सबलगढ़ के पुराने मकान मालिक सुनील जादौन पर शक जताया था. लिहाजा फाइल नए सिरे से खुली तो सुनील पर पुलिस ने निगरानी शुरू कर दी. सुनील की मोबाइल लोकेशन महीने में दस से 15 दिन उत्तर प्रदेश के वृंदावन में मिलती थी. पुलिस की टीम ने वृंदावन में खोजबीन की तो सुधा का पता चल गया.  पुलिस का सामना होने पर सुधा अपने पति के पास लौटने से साफ इंकार कर दिया. सुधा ने बताया कि पति जितेंद्र उसके चरित्र पर शंका करता था, इसलिए उसने सुनील जादौन के साथ शादी कर वृंदावन में अपनी नई गृहस्थी बसा ली।