मध्यप्रदेश: Bhopal में मां-बेटी पर लगे मानव तस्करी के गंभीर आरोप, ऐसे हुआ खुलासा

मध्यप्रदेश: Bhopal में मां-बेटी पर लगे मानव तस्करी के गंभीर आरोप,  ऐसे हुआ खुलासा

भोपाल। राजधानी में रहने वाली मां-बेटी की एक जोड़ी पर मानव तस्करी के गंभीर आरोप लगे हैं। दोनों पर गरीब घराने की भोली-भाली लड़कियों को गाड़ी कमाई का लालच देकर दुबई, ओमान और मस्कट में लड़कियां सप्लाई करने करने का आरोप है। ऐसे ही एक मामले की लिखित शिकायत एक युवक ने आला अधिकारियों से की है। आवेदन में बताया गया है कि उसकी पत्नी को बातों में फांसकर दोनों महिलाओं ने जबरन मस्कत भेजने की तैयारी कर ली है।

 

इस बात की जानकारी उन्हें पिछले दिनों तब मिली जब पत्नी का पासपोर्ट फेरिफिकेशन करने के लिए पुलिसकर्मी घर आए। उल्लेखनीय है कि करीब पांच साल पूर्व भी दोनों महिलाओं पर गंभीर आरोपों के बाद में जमकर बवाल हुआ था। तब थाना गौतम नगर में महिलाओं के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ था।

 

जानकारी के अनुसार 40 वर्षीय कैसर खान निवासी मकान नंबर 138 गली नंबर दो कॉजीकेंप मेन रोड पर रहते हैं और ड्रायवरी का काम करते हैं। उन्होंने बताया कि उनकी शादी को 19 वर्ष बीत चुके हैं। पूर्व में उनके घर में फराह और रेहाना (बदला हुआ नाम) की मां बेटी किराए से रहा करती थीं। फिलहाल दोनों महिलाएं चौकसे नगर में रहती हैं। इसी कारण महिलाओं का परिवार में आना जाना था। पिछले दिनों महिलाओं ने उनकी पत्नी को मस्कत भेजने तथा वहां मोटी सैलेरी पर नौकरी दिलाने का झांसा दिया था। दोनों ने गुप-चुप तरीके से पत्नी का पासपोर्ट अप्लाई करा दिया। पुलिस वैरिफिकेशन के लिए जब घर आई तब उन्हें संदेह हुआ। पत्नी से पूछताछ करने पर उसने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। बाद में दोनों के बीच जमकर विवाद हुआ तब पत्नी ने मां-बेटी के जरिए मस्कत जाने की बात कही। पति ने बिना जानकारी इतना बड़ा फैसला लेने पर आपत्ती ली तो पत्नी उसे छोड़कर मायके चली गई। कैसर ने बताया कि पड़ताल करने पर सामने आया कि पूर्व में भी दोनों महिलाएं मोहल्ले की एक युवती को परिजनों की मर्जी के बगैर गुप-चुप तरीके से दुबई भेज चुकी हैं।

 

वहीं करीब पांच साल पहले आरोपी महिला फराह का पहला पति याकूब पत्नी के खिलाफ शिकायत कर चुका है। तब आरोप लगा था कि फराह ने अपनी एक बेटी को दुबई में जबरन भेज दिया है। जहां उससे गलत काम कराया जा रहा है। इस मामले में दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई थी। मामला गौतम नगर थाने पहुंच गया था। वहीं पूरे मामले मेें फराह ने अपना पक्ष रखते बताया कि पूरे मामले से उनका कोई लेनादेना नहीं है। उन्हें कैसर की पत्नी के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। उन पर लगे आरोप निराधार हैं।