सिंगरौली: चर्चित आरक्षक पुष्कर हुआ निलंबित

सिंगरौली: चर्चित आरक्षक पुष्कर हुआ निलंबित

वायरल वीडियो के बारे में रच रहा था षड्यंत्र, 3 मिनट 52 सेकंड का ऑडियो पहुंचा एसपी के पास

 

 

 

अनोखी आवाज़। लंबे समय से खुटार चौकी में पदस्थ आरक्षक पुष्कर पोरवाल पर एसपी ने गाज गिरा दी है।
तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है पुलिस अधीक्षक ने निलंबित करते हुए यह कारण बताया है  कि आरक्षक 575 पुष्कर पोरवाल थाना बैढन के विरुद्ध एक ऑडियो रिकॉर्डिंग प्रकाश में आया है उक्त ऑडियो 3 मिनट 52 सेकंड का है। ऑडियो क्लिप को सुनने से आरक्षक द्वारा किसी व्यक्ति से बातचीत की जा रही है। बातचीत में किसी वीडियो के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों के माध्यम से दबाव डलवाने एवं किसी को फसाए जाने संबंधी बातें हो रही हैं। आगे उन्होंने कहा है कि ऑडियो सुनने से प्रथम दृष्टया आरक्षक का आचरण संदिग्ध प्रतीत होता है।

 

 

 

 

 

जिस कारण संदिग्ध आचरण अवांछित वार्तालाप एवं अमर्यादित व्यवहार प्रदर्शित करने के लिए आरक्षक 575 पुष्कर पोरवाल थाना बैठन को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है। आगे पत्र में लिखा है कि निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय रक्षित केंद्र सिंगरौली रहेगा इन्हें निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।

 

 

 

 

 

 

 


इस कारण हुआ निलंबन

 

बीते दिवस सोशल मीडिया पर एक वीडियो बड़े तेजी से वायरल हो रहा था जिसमें एक व्यक्ति आरोप लगा रहा है कि पुलिसकर्मी पुष्कर और धाकड़ के मारने से मेरी यह हालत गंभीर हुई है। वही परिजनों ने तो यहाँ तक आरोप लगा दिया कि मारने के कारण मौत हो गई।  लिहाजा उक्त खबर को अनोखी आवाज ने लगातार प्रमुखता से उठाया और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को भी ट्विटर के माध्यम से अवगत कराया है।

 

 

 

 

 

 

 

 


हालांकि एसपी कार्यालय से जिस तरह का आदेश जारी हुआ है उससे पढ़कर यही समझ में आता है कि शायद उसी वीडियो का जिक्र किया गया है जो बीते दिवस सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।  हालांकि जांच के बाद यह समझ आएगा कि कौन ऑडियो है कौन वीडियो है..?  लेकिन एक बात तो तय है कि खुटार चौकी क्षेत्र की जनता अब सुकून की सांस लेगी। हालांकि अभी इनके साथी के साथ  एसपी साहब एक्शन लेते हैं देखना बाकी होगा।