रानी कमलापति स्टेशन का इंतजार खत्म LIVE: RKMP पहुंचे मोदी, स्टेशन को देखा

रानी कमलापति स्टेशन का इंतजार खत्म LIVE: RKMP पहुंचे मोदी, स्टेशन को देखा

भोपाल. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  भोपाल आ चुके हैं। जनजातीय सम्मेलन में शामिल होने के बाद मोदीा ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन  का उद्घाटन किया। मोदी ने स्टेशन का बाकायदा जायजा भी लिया। रानी कमलापति देश का पहला वर्ल्ड क्लास स्टेशन है। इसके री-डेवलपमेंट ) पर करीब 100 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। इसके अलावा 350 करोड़ कमर्शियल डेवलपमेंट पर खर्च किए जा रहे हैं। स्टेशन को इस तरह से बनाया गया है कि यहां पैसेंजर्स को हर तरह की सेफ्टी, सिक्योरिटी और फैसिलिटी मिल सके।

 

 

 

रानी कमलापति स्टेशन को जर्मनी के हाइडेलबर्ग रेलवे स्टेशन की तरह री-डेवलप किया गया है। रानी कमलापति स्टेशन पर रोज 40 हजार पैसेंजर्स की आवाजाही रहेगी। हाइडेलबर्ग में रोज करीब 42 हजार यात्री आते हैं। रानी कमलापति स्टेशन में रोजाना करीब 40 जोड़ी ट्रेनों को स्टॉपेज दिया जाएगा। कोविड से पहले तक यहां रोज 54 जोड़ी ट्रेनों का संचालन होता था और करीब 25 हजार लोगों की आवाजाही हो रही थी। फिलहाल अभी 22 जोड़ी ट्रेनों का संचालन हो रहा है।

 

 

 

 

स्टेशन पर ये सुविधाएं

  • स्‍टेशन में ऐसे दो सब-वे बनाए गए हैं। 1500 यात्री एक साथ अंडरग्राउंड सब-वे से गुजर सकेंगे। भीड़ के दबाव को भी कम किया जा सकेगा। स्टेशन में एक नंबर प्लेटफार्म की तरफ से एंट्री ग्लास डोम वाले गेट से होगी। 
  • एक नंबर प्लेटफॉर्म पर एक समय पर 2 हजार यात्री ट्रेनों का इंतजार कर सकेंगे। 36 मीटर ऊंची बिल्डिंग में 2000 से ज्यादा यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था है।
  • स्टेशन को पैसेंजर सेग्रीगेशन प्रिंसिपल पर डिजाइन किया गया है। यानी यहां यात्रियों के आने-जाने की व्यवस्था अलग-अलग रखी गई है, जिससे स्टेशन पर भीड़ न हो और किसी को कोई परेशानी भी न आए।
  • स्टेशन परिसर का एरिया 23 हजार वर्गमीटर है। 17 हजार वर्ग मीटर जमीन कमर्शियल इस्तेमाल के लिए है।
  • इस जमीन पर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, हॉस्पिटल, सिनेमा, होटल और दुकानें बन रही हैं। डेवलपर को ये जमीन 45 साल की लीज पर दी गई है।डेवलपर को ही यात्री सुविधा वाले हिस्सों की देखरेख और रख-रखाव पांच साल तक करना होगा।
  • प्लेटफॉर्म-1 की तरफ 210 फोर ह्वीलर व्हीलर और 600 टू व्हीलर और प्लेटफॉर्म-5 की ओर 90 फोर व्हीलर और 250 टू व्हीलर पार्किंग की सुविधा है।
  • स्टेशन पर 3 ट्रेवलेटर, 8 लिफ्ट, 12 एस्केलेटर, 120 इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले, 170 हाई रेजोल्यूशन कैमरे, 300 LED लगाई गई हैं।