बिना वैक्सीनेशन नहीं मिलेगा गेंहू-चावल, दुकानों पर रहेगी स्वास्थ्य विभाग टीम

बिना वैक्सीनेशन नहीं मिलेगा गेंहू-चावल, दुकानों पर रहेगी स्वास्थ्य विभाग टीम

कोविड-19 से आम-आवाम को बचाने को जिला प्रशासन ने नई प्लानिंग की है। इस मुहिम की शुरुआत शहर से 20 नवंबर से होगी। शहर के सभी 198 राशन की दुकानों पर कोविड-19 टीका लगाया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा दुकानों पर टीम लगाई जाएगी। इसके लिए विभाग ने सांई मेडिकल कालेज से मेडिकल की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों को भी लगाया है। इनके साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम रहेंगी। स्वास्थ्य विभाग ने नया स्लोगन दिया है ‘पहले टीकाकरण कराएं, फिर राशन लाएंगे, कोरोना हाराएंगे’। टीकाकरण का प्रमाण पत्र देने पर ही राशन मिलेगा। प्रशासन के निर्देश पर सभी राशन की दुकानों को नियमित खोला जाएगा।  

 


  नवंबर माह तक 26,47,465 लोगों को पहली डोज लगाने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी जोरशोर से लगा हुआ है। जिला प्रशासन भी स्वास्थ्य विभाग का लगातार साथ दे रहा है। इसी क्रम में पहले तो प्रशासन ने ग्रामीण इलाकों में कोटेदार, शिक्षक, प्रधान, सचिव, आंगनबाड़ी को हर घर दस्तक अभियान में लगाया है। यह टीमें घर-घर जाकर लोगों को टीककारण लगाने को प्रेरित करेंगी। और स्वास्थ्य विभाग की एएनएम इनकों टीका लगाएंगे। इसके बाद टीकाकरण में वृद्धि हुई तो सीडीओ अंकित खंडेलवाल ने राशन की दुकानों पर टीकाकरण सेशन लगाने की योजना बनाई। जिस पर मंजूरी हो चुकी है। शनिवार से शहर के 198 राशन की दुकानों पर स्वास्थ्य विभाग सेंशन साइट लगाएगा। जहां पर एएनएम व स्टाफ नर्स द्वारा राशन लेने आने वाले 18 से ऊपर सभी का टीका लगाया जाएगा।


 
स्वास्थ्य विभाग ने लगाया 75 टीमें


अलीगढ़। स्वास्थ्य विभाग में मैन पावर की कमी होने के बावजूद सीएमओ ने 75 टीमों का गठन किया। यह टीमें शहर की सभी 198 राशन की दुकानों को कबर करेंगी। एक टीम आसपास के दो से तीन दुकानों को कबर करेगी। वहीं दूसरी ओर सीएमओ डॉ. आनंद कुमार उपाध्याय ने सांई मेडिकल कालेज से मेडिकल की पढ़ाई कर रहे कुछ विद्यार्थियो को भी स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ वैक्सीनेशन में लगाया है। इससे टीम बढ़ेगी।
 

 


अलीगढ़। सीएमओ डॉ. आनंद कुमार उपाध्याय ने सभी स्वयं सेवी संस्थाओं जैसे लायंस क्लब, रोटरी क्लब, आईएमए आदि संस्थाओं से टीकाकरण अभियान में स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करने की अपील की है। कहा कि टीकाकरण को गति देने के लिए लगे और ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीका लगाने को प्रेरित करें। जिले में साढ़े तीन लाख लोग ऐसे में जो दूसरा टीका नहीं लगवाएं है।


 
 राशन की दुकान पर लगाया सेशन साइट

 

सीएमओ डॉ. आनंद कुमार उपाध्याय के निर्देश पर 19 नवंबर को ऊपरकोट स्थित राशन की दुकानों पर सेशन साइट लगाया गया। जिसका खुद सीएमओ ने निरीक्षण किया। यहां आने वाले लोगों को वैक्सीन लगवाने को प्रेरित किया। 


 
 कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग जनपद में विभिन्न प्रयास कर रहा है। एक तरफ सघन जांच तो दूसरी तरफ कोविड वैक्सीनेशन दोनों को धरातल पर बेहतर परिणाम देने के लिए नई-नई रणनीति अपना आ रहा है । इन रणनीति में दस्तक अभियान और अधिक से अधिक कोरोना की जांच करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है । हर घर-घर अभियान में जो लोग पहले डोज से या दूसरे डोज से छूटे हुए हैं। उनको वैक्सीनेट किया जा रहा है।  सीएमओ डॉ. आनंद उपाध्याय ने बताया कि जनपद में पहली डोज 17,13,005 व दूसरी डोज 6,73,725 और जिले में अब तक कुल 23,86,730 टीका लगाया जा चुका है ।


 
सीएमओ ने बताया कि कोविड-19 को जांचने के लिए दो दिन में 6,723 कोविड टेस्ट किए गए । जिसमें जांच के चलते दो दिनों में 3,356 आरटीपीसीआर जांच की गई । इन दो दिनों में जिले में एक संक्रमित पाया गया है। कोविड संक्रमण पाए जाने हेतु जांच के दौरान कोरोना के लक्षण मिले हैं। स्वास्थ विभाग पूरी तरीके से सतर्क है।